भाग-3 : झारखंड आंदोलन में सांस्कृतिक योगदान_मधुमंसूरी ‘हंसमुख’ से खास बातचीत

जयपाल सिंह की झारखंड पार्टी के विलय के बाद झारखंड आंदोलन लगभग समाप्त हो चुकी थी इसे फिर से जिंदा करने के लिए झारखंड के विभिन्न संस्कृतिकर्मी सामने आए. इन्होंने अपनी गीतों और कविताओं के माध्यम से लोगों में चेतना जगाने का काम किया. यह वह दौर था जिसने लोगों के अंदर झारखंड आंदोलन को लेकर नई ऊर्जा प्रदान की और लोग बढ़-चढ़कर झारखंड आंदोलन में अपनी भागीदारी दिखाई.

 

 

Advertisements

Award of Film Naachi Se Baanchi

6509bd70-32dc-4603-b99c-cb5adc692d5c
Naachi Se Baanchi Won Special Jury Mention Award in Mumbai International Film Festival – 2018

2f533381-e741-4791-b7c2-704a33ce7569                                                        Naachi Se Baanchi won the Judges Choice Award in 7th International Folk Music Film Festival Kathmandu, Nepal